नए ट्रैफिक रूल के बाद कम हुए चालान, देश में मचा राजनैतिक घमासान

05/09/2019 - 10:29 | ,   | deepak

भारतीय सड़क और परिवहन मंत्रालय ने 1 सितम्बर 2019 से देश में नया Traffic Rules लागू कर दिया है। इस नियम के लागू होने के बाद एक ओर जहां राजनैतिक घमासान मचा हुआ है, वहीं दूसरी ओर ट्रैफिक चालान में कमी भी आई है।

दरअसल देश में ट्रैफिक चालान के साथ जुर्माने की बढ़ी हुई राशि से लोग हैरान हैं और सरकार के प्रति अपना गुस्सा विभिन्न सोशल साइट के माध्यम से जता रहे हैं। उन्होंने इस नियम को सरकार का तुगलकी फरमान करार दिया है और बढ़ी हुई राशि को वापस लेने की मांग की है।

Traffic Violation

हालांकि कई लोग इसके समर्थन में भी देखें जा रहे हैं और इसे ट्रैफिक वायलेंस के सुधार की दिशा में अच्छा कदम बता रहे हैं। देखा जाए तो नए नियम पर लोग दो धड़ों में बटे हुए हैं।

यह भी पढ़ेः रॉयल एनफील्ड INT 650 और GT 650 की प्राइस में इजाफा, देखें लिस्ट

विरोध करने वालों का तर्क ये हैं कि विरोध निय़म का नहीं है, बल्कि नियम के अव्यवहारिक होने का है, जबकि समर्थन कर रहे लोगों का कहना है कि यह बहुत ज़रूरी है।

सामने आए कई अजीबोगरीब मामले

Traffic Violation4

नया नियम लागू होने के बाद कई ऐसी भी खबरें आई हैं जो वास्तव में हैरान करने वाली रही हैं। गुरुग्राम में हरियाणा पुलिस ने मंगलवार को एक ऑटो चालाक का 32 हजार 500 रुपये का चालान काटा तो वहीं बिहार के भागलपुर में वाहन चेकिंग के दौरान एक बाइक सवार का 18 हजार रुपये का चालान काटा गया। जुर्माना की राशि सुनते ही बाइक सवार भाग निकला।

यह भी पढ़ेः Maruti S-Presso: चार इक्वीपमेंट लाइन के साथ 30 सितम्बर को होगी लॉन्च

ट्रैफिक पुलिस ने ममलखा के रहने वाले एक बाइक (पैशन प्रो) सवार पर 13600 रुपये जुर्माना लगाया, जिसके कारण वह व्यक्ति बाइक वहीं छोड़कर चला गया। इसी प्रकार गुरूग्राम में भी एक एक्टिवा पर 23000 रूपए का जुर्माना लगाया गया, जिसके बाद यह मुद्दा सोशल मीडिया पर खूब छाया रहा।

क्या कहते हैं अधिकारी

Traffic Violation2

ट्रांसपोर्ट विभाग की तरफ से नया नोटिफिकेशन जारी होने तक दिल्ली में जितने भी लोगों के ट्रैफिक के चालान कटेंगे, उन सभी को जुर्माना भरने कोर्ट में जाना पड़ेगा। उसके बाद ही चालान जमा हो पाएगा। वाहन चेकिंग अभियान को लेकर अधिकारियों का कहना है कि यह लोगों की मर्जी है कि लोग जुर्माना भरकर बाइक छुड़ा ले जाये या छोड़ दे।

यह भी पढ़ेः Bajaj Pulsar रेंज की प्राइस में होगी बढ़ोत्तरी, जानिए कब होगा लागू?

इसे लेकर लोगों में थोड़ी नाराजगी भी दिखी, लेकिन ट्रैफिक पुलिसवाले मजबूरी का हवाला देते हुए कह रहे थे कि जुर्माना उन्हें कोर्ट में जाकर ही देना पड़ेगा और अगर किसी का कोई कागजात जब्त हुआ है, तो वह भी कोर्ट में जाने के बाद ही मिलेगा।

वाहन चेकिंग अभियान से मचा हड़कंप

Cb04motorvehicles

देश के लगभग सभी शहरों में वाहन चेकिंग अभियान के कारण हड़कंप मचा हुआ है।  लोग चेकिंग का नाम सुनते ही काफी संख्या में वाहन लेकर लौट जा रहे हैं। कई इधर-उधर भागते भी दिखे। वाहन के कागजात में कमी रहने पर भारी जुर्माना लगाया जा रहा है। ऐसे में सड़कों पर लोग अपने वाहनों के साथ कम निकल रहे हैं।

पसंदीदा खबरें

ताज़ा खबर