Ford Motors क्या भारत से समेटने जा रही है अपना व्यापार?

26/09/2019 - 16:46 | ,  ,  ,  ,   | deepak

पिछले कई महीनों से ऑटो इंडस्ट्री मंदी से जूझ रही है और इस दौरान अमेरिकी वाहन निर्माता कंपनी Ford की बिक्री में काफी कमी आई है। कंपनी के प्रोडक्ट पोर्टफोलियों में Figo, EcoSport और Endeavour जैसी कई पावरफुल और लोकप्रिय कारें भारत में बिक्री के लिए उपलब्ध हैं, लेकिन मौजूदा बिक्री के आकड़ों को देखा जाए तो लोगों की निगाह में ये कारें अब फैंसी नहीं रह गई हैं।

10652752 Ford Endeavour

पिछले कई महीनों की मासिक बिक्री के आकड़ों को देखा जाए तो पता चलता है कि Ford केवल 5 हजार यूनिट की बिक्री ही दर्ज कर पा रही है। ऐसे वक्त में ब्लूमर्ग में प्रकाशित हुई एक रिपोर्ट की मानें तो इंडिया में फोर्ड के लिए मुश्किलें और भी बढ़ने वाली हैं।

महिंद्रा के साथ एक जॉइंट वेंचर में करेगी प्रवेश

Mahindra Xuv300 Dual Tone Front 2c1f

दरअसल इस रिपोर्ट में दावा किया गया है, कि Ford अब इंडिया से अपना व्यापार समेटने जा रही है। इस तैयारी को कंपनी ने अंतिम रूप दे दिया है। हालांकि रिपोर्ट में यह भी स्पष्ट है कि Ford  भारतीय कंपनी महिंद्रा के साथ एक जॉइंट वेंचर में प्रवेश करेगी। इसलिए जो फोर्ड की कारें खरीदने की सोच रहे हैं उन लोगों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

यह भी पढ़ेः Mahindra - Ford की पार्टनरशिप में 9 एसयूवी होगी लॉन्च : रिपोर्ट

फोर्ड मोटर्स तकनीकी रूप से अभी भी भारत में रहेगी, लेकिन अकेले नहीं। इस साझेदारी के तहत फोर्ड महिन्द्रा के साथ टेक्नोलॉजी,  इंजन और कुछ मॉडलों के आदान-प्रदान करती रहेगी, जिसमें महिंद्रा का फोर्ड की संपत्ति में 51% की हिस्सेदार होगी। हालांकि दोनों को निर्णय लेने की पूरी छूट रहेगी।

20 साल पहले शुरू हुआ था ऑपरेशन

Ford Ka Freestyle Rear Three Quarters

बता दें कि Ford ने करीब 20 साल पहले Ford Escort के साथ भारत में अपना ऑपरेशन शुरू किया था। कुछ वर्षों तक कंपनी ने भारत में अच्छा व्यापार किया, लेकिन अब बाजार में हिस्सेदारी धीरे-धीरे कम हो गई है। फोर्ड की भारत के कार मार्केट में केवल 3 प्रतिशत की ही हिस्सेदारी है।

दूसरी ओर फोर्ड भी अब भारतीय बाजार में कोई नई कार नहीं उतारने वाली है।  उसका ध्यान सिर्फ वर्तमान की कारों के फेसलिफ्ट तथा अपडेट्स पर है। एक खबर के मुताबिक फोर्ड अपने वर्तमान बिजनेस की सभी संपत्तियों तथा कर्मचारियों को नई कंपनी में ट्रांसफर करने वाली है।

Ford India की ताज़ा खबरें

अन्य खबरें

फीचर स्टोरी