1 करोड़ लोगों का छिनेगा रोजगार, इसलिए Driverless Cars की अनुमति नहीं: गडकरी

26/09/2019 - 15:40 | ,   | deepak

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि वे भारत में ड्राइवरलेस कारों की अनुमति नहीं देंगे, क्योंकि इससे देश के लाखों लोगों की नौकरियां छीन सकती हैं। नितिन गड़करी ने कहा कि उनसे देश की कई बड़ी हस्तियों ने मुलाकात की और कहा कि वे Driverless Cars को भारत में लाना चाहते हैं, लेकिन मैने उन्हें स्पष्ट रूप से मना कर दिया। मैंने उन्हें स्पष्ट रूप से कहा कि जब तक मैं हूं। भारत में ड्राइवरलेस कारों की अनुमति नहीं होगी।

Nitin Tesla 647 071816115828

गड़करी ने कहा उन्होंने इसके जवाब में मुझसे पूछा गया कि क्या मैं नई तकनीक का विरोध करता हूं तो ये भी कहा कि बिल्कुल नहींलेकिन हमारे देश में करीब 40 लाख ड्राइवर हैं और 25 लाख ड्राइवरों की कमी है। मैं 1 करोड़ लोगों की नौकरियां नहीं छीनूंगा।

दरअसल केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग के मंत्री नितिन गड़करी उक्त बातें एमएसएमई खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) द्वारा आयोजित एक समारोह में कही। गडकरी ने कहा कि सामाजिक और आर्थिक समानता भाषणों से नहीं बल्कि वास्तविक कार्रवाई से आएगी।

Hyundai Elantra Rear A501

गड़करी का कहना था कि हम आर्थिक और सामाजिक रूप से पिछड़े क्षेत्रों के लिए नियमित रूप से काम कर रहे हैं। अब कुल्हड़ का इस्तेमाल 400 रेलवे स्टेशनों पर चाय के लिए किया जाएगा, इससे कुम्हारों को रोजगार देंगे। यही  महात्मा गांधी की आत्मा को वास्तविक समर्पण है।

इस अवसर पर KVIC के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना ने अपने संबोधन में कहा कि चालू वित्त वर्ष में KVIC प्रशिक्षित कारीगरों के बीच एक और 70,000 लेदर टूल किट वितरित किया जाएगा।

[सोर्स- ETAuto]