Hero MotoCorp कर्मचारियों को देगी स्वैच्छिक रिटायरमेंट

16/09/2019 - 19:24 | ,  ,  ,   | deepak

देश की सबसे बड़ी टू-व्हीलर निर्माता कंपनी Hero MotoCorp ने अपने कर्मचारियों को 28 सितम्बर तक स्वैच्छिक रिटायरमेंट (VRS) के लिए निर्देश दिए हैं। कंपनी का यह निर्देश 40 साल से ऊपर और कंपनी में पांच साल तक कार्य कर चुके कर्मचारियों के उपर लागू होगी। कंपनी यह कदम मंदी के दौर में प्रोडक्शन और कैपिसिटी में सुधार करने के लिए कर रही है।

New Hero Passion Pro Hero Passion Xpro Hero Super

अंग्रेजी वेबसाइट इकोनामिक्स टाइम्स में प्रकाशित एक खबर के हवाले से हीरो मोटोकार्प के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह वीआरएस उन कर्मचारियों के लिए सम्मानजनक रिटायरमेंट का एक आदर्श उदाहरण है, जिन्होंने कंपनी की सर्विस करते हुए अपने जीवन को समर्पित किया है और अब अलग होना चाहते हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि यह वीआरएस ऑफर उन कर्मचारियों के कुछ सुझावों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है, जिन्होंने पिछले कुछ हफ्तों में कंपनी से रिटायरमेंट के लिए संपर्क किया था और कई बेनिफिट्स के साथ जल्दी रिटायरमेंट की संभावना तलाश रहे थे। इसलिए यह ऑफर कंपनी और कर्मचारियों दोनों के लिए एक जीत है।

Hero Splendor Ismart 110 Side Launch

हालांकि हीरो मोटोकॉर्प ने अभी इस पेशकश की अन्य जानकारियों को साझा करने से इंकार किया है, लेकिन कहा जा रहा है कि वीआरएस के तहत दिए गए मुआवजे के पैकेज की गणना कर्मचारी द्वारा कंपनी की सर्विस में किए गए कार्य के वर्षों और उसके शेष वर्षों के आधार पर की जाएगी। रिटायरमेंट की उम्र 58 वर्ष है। कर्मचारियों को एकमुश्त राशि दी जाएगी।

रिटायरमेंट लेने वाले कर्मचारियों को एकमुश्त राशि के अलावा अन्य लाभ भी मिलेंगे, जिसमें हीरो के प्रोडक्ट की खरीद पर छूट, मेडिकल, वैरियल पे, कंपनी द्वारा दिए गए कारों और लैपटॉप पर छूट,  बच्चों को हीरो कंपनी में कैरियर बनाने के अवसर, पुनर्वास सहायता और भविष्य के व्यवसाय भी शामिल हैं।

अशोक लीलैंड ने भी उठाया ये कदम

हीरो यह कदम एक ऐसे दौर में उठाने जा रही है जब ऑटोमोबाइल उद्योग मंदी के दौर से गुजर रहा है और अशोक लीलैंड जैसी कंपनियों ने भी कर्मचारियों   और लागत में कटौती की घोषणा की है। अशोक लीलैंड ने भी हीरो की तरह अपने कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS) का निर्देश दिया है।

Hero MotoCorp की ताज़ा खबरें

अन्य खबरें

फीचर स्टोरी